Hindi Murli Quiz 12-11-2014

10 | Total Attempts: 288

SettingsSettingsSettings
Please wait...
Hindi Murli Quiz 12-11-2014

ये क्विज आज की मुरली पर आधारित है| मुरली सुनने के लिए यहाँ क्लिक करें| पुरानी क्विज  के लिए यहाँ क्लिक करें |


Questions and Answers
  • 1. 
    अब तुम बच्चों को कितने राज समझाते हैं । फाइनल ही बाप समझना, टीचर समझना यह अभी हो नहीं सकता, घड़ी-घड़ी भूल जायेंगे ।
    • A. 

      True / ये वाक्य सही है

    • B. 

      False / ये वाक्य गलत है

  • 2. 
    आज की मुरली में धारणा के लिए मुख्य पॉइंट्स ये थी...(उत्तर एक या एक से ज्यादा भी हो सकते हैं)
    • A. 

      अपनी पाई-पैसे की मत नहीं चलानी है ।

    • B. 

      स्मृति रहे कि विजय की भावी टल नहीं सकती |

    • C. 

      कभी भी याहुसैन नहीं मचाना है ।

    • D. 

      कभी भी रोना नहीं है ।

    • E. 

      कभी मूँझना वा घुटका नहीं खाना है ।

  • 3. 
    सतगुरू सर्व को सद्गति देने वाला तो एक ही बाप है ।तो प्रश्न हैं- वास्तव में सतगुरु बाप के कितने बच्चे कहना सही हैं ?    
    • A. 

      700 करोड़

    • B. 

      33 करोड़

    • C. 

      9 लाख

    • D. 

      16108

    • E. 

      108

    • F. 

      8

  • 4. 
    जैसे यहाँ ऑफिस आदि में नौकरी होती हैं तो स्वतंत्रता नहीं होती | वैसे क्या स्वर्ग में भी नौकरी आदि होती हैं ??     
    • A. 

      जी हाँ, होती है

    • B. 

      जी नहीं, नहीं होती

  • 5. 
    कौन से बच्चे “क्या हुआ, क्यों हुआ” इन सब प्रश्नों से भी पार सदा निश्चिंत, सदा हर्षित रहते हैं ??
    • A. 

      निश्चयबुद्धि बच्चे

    • B. 

      राजयोगी बच्चे

    • C. 

      सर्विसएबुल बच्चे

    • D. 

      ब्राह्मण बच्चे

    • E. 

      आज्ञाकारी बच्चे

  • 6. 
    यह जो गायन है अतीन्द्रिय सुख गोप-गोपियों से पूछो ये कब का है ??   
    • A. 

      कलियुग के अंत का

    • B. 

      संगमयुग के अंत का

  • 7. 
    ________ को नष्ट करने के बजाए फौरन निर्णय कर फैंसला करो ।
  • 8. 
    आज बाप ने कहा - बाप को जानेंगे तो टीचरपना भूल जायेगा, फिर गुरूपना भूल जायेगा । इसका अर्थ हैं....      
    • A. 

      परमात्मा के बाप के रूप के आगे उनका टीचरपना भूलेंगे, गुरूपना भूलेंगे

    • B. 

      आत्मा अपना टीचरपना भूलेगी, गुरूपना भूलेगी

Back to Top Back to top