Hindi Murli Quiz 05-05-2014

10 Questions | Total Attempts: 158

SettingsSettingsSettings
Please wait...
Hindi Murli Quiz 05-05-2014

ये क्विज आज की मुरली पर आधारित है| मुरली सुनने के लिए यहाँ क्लिक करें| पुरानी क्विज के लिए यहाँ क्लिक करें


Questions and Answers
  • 1. 
    __________ बाप तुम्हें _______ भव का पाठ पढ़ाते हैं, तुम्हारा पुरुषार्थ है – देह-अभिमान को छोड़ना |
    • A. 

      बेहद

    • B. 

      देहाभिमान

    • C. 

      पवित्र

    • D. 

      देहि अभिमानी

  • 2. 
    देह-अभिमानी बनने से कौन-सी पहली बीमारी उत्पन्न होती है?
    • A. 

      नाम-रूप की

    • B. 

      यह बीमारी ही विकारी बना देती है इसलिए बाप कहते हैं आत्म-अभिमानी रहने की प्रैक्टिस करो

    • C. 

      देह के लगाव को छोड़ एक बाप को याद करो तो पावन बन जायेंगे |

    • D. 

      आत्म-अभिमानी अथवा देही-अभिमानी होकर बैठना है

  • 3. 
    ब्राह्मणों की रात किसको कहा जाता है
    • A. 

      ज्ञान

    • B. 

      संगमयुग

    • C. 

      भक्ति

    • D. 

      कलयुग

  • 4. 
    ब्राह्मणों की डिनायस्टी होती है
    • A. 

      सही

    • B. 

      गलत

  • 5. 
    कोई भी परिवर्तन का सहज आधार महसूसता की शक्ति है | जब तक महसूसता की शक्ति नहीं आती तब तक अनुभूति नहीं होती और जब तब अनुभूति नहीं तब तक _______ जीवन की विशेषता का फाउण्डेशन मज़बूत नहीं
    • A. 

      आलोकिक

    • B. 

      ईश्वरीय

    • C. 

      ब्राह्मण

    • D. 

      सभी

  • 6. 
    आज के सार से:-
    • A. 

      सतोप्रधान बनने के लिए सिवाए बाप के और किसी को भी याद नहीं करना है | देही-अभिमानी बनने की प्रैक्टिस करनी है |

    • B. 

      आत्म-अभिमानी अथवा देही-अभिमानी होकर बैठना है

    • C. 

      यह बीमारी ही विकारी बना देती है इसलिए बाप कहते हैं आत्म-अभिमानी रहने की प्रैक्टिस करो

    • D. 

      सबसे क्षीरखण्ड होकर रहना है | इस अन्तिम जन्म में विकारों पर विजय प्राप्त कर जगतजीत बनना है |

  • 7. 
    . ______ की शक्ति द्वारा स्व परिवर्तन करने वाले तीव्र पुरुषार्थी भव 
    • A. 

      सहन

    • B. 

      सहयोग

    • C. 

      विश्वकल्याणकारी

    • D. 

      महसूसता

  • 8. 
    स्नेह के स्वरूप को साकार में इमर्ज कर ______ समान बनो |  
    • A. 

      फ़रिश्ते

    • B. 

      ब्रह्मा बाप

    • C. 

      ब्राह्मण

    • D. 

      देवता

  • 9. 
     बाप कहते हैं – मीठे बच्चों, तुम मुझे अनगिनत जन्मों में ले गये हो | मुझे कण-कण में कह दिया है | यह भी ड्रामा बना हुआ है | बेहद के बाप की ग्लानि करते कितनी पाप आत्मायें बन गये हैं | रावण राज्य है ना |
    • A. 

      सही

    • B. 

      गलत

Related Topics
Back to Top Back to top