Hindi Murli Quiz 06-05-2015

8 | Total Attempts: 202

SettingsSettingsSettings
Please wait...
Hindi Murli Quiz 06-05-2015

यह क्विज आज की मुरली पर आधारित है |


Questions and Answers
  • 1. 
    Q.बच्चे जो सेन्सीबुल हैं वह अर्थ तो अच्छी रीति समझते हैं, ____________ को ही तूफान लगते हैं।
    • A. 

      जिनका बुद्धियोग शान्तिधाम और स्वर्ग तरफ है

    • B. 

      जो देह अभिमानी हैं

    • C. 

      जो अब तक नष्टोमोहा नहीं बने हैं

    • D. 

      जिनका बुद्धियोग बाप तरफ नहीं है

  • 2. 
    Q.इनमें से गलत वाक्यों का चयन करें-
    • A. 

      यह ब्राह्मणों का झाड़ भी जल्दी-जल्दी वृद्धि को पाता है |

    • B. 

      बाप जो ज्ञान देते हैं, वह थोड़ा-थोडा शास्त्रों में है|

    • C. 

      काम महाशत्रु है, इससे तो तुम्हें बहुत नफरत आनी चाहिए।

    • D. 

      यह गोले का चित्र बहुत अच्छा है - गेट वे टू हेविन। इस गोले के चित्र से बहुत अच्छी रीति समझ सकेंगे।

  • 3. 
    Q.इनमें से सही वाक्यों का चयन करें-
    • A. 

      साहूकार है, तो सुखी है। उनको जगह अच्छी मिलती है। सम्भाल अच्छी होती है।

    • B. 

      श्रीमत कहती है - कोई को दु:ख न दो और सबको रास्ता बताओ।

    • C. 

      इस लड़ाई के बाद स्वर्ग के गेट्स खुलते हैं।

    • D. 

      बाबा कोई ऐसे भी नहीं कहते कि खाना पीना नहीं खाओ। यह कोई हठयोग नहीं है।

  • 4. 
    Q.चलते-फिरते सब काम करते, जैसे आशिक माशूक को याद करते हैं, ऐसे याद में रहो। उन्हों का दैहिक प्यार नहीं होता है।
    • A. 

      True

    • B. 

      False

  • 5. 
    Q.इनमें से सही वाक्यों का चयन करें-
    • A. 

      मुरली कभी भी मिस नहीं करना है, मुरली में लापरवाह नहीं रहना है।

    • B. 

      गरीब हैं तो कहेंगे अच्छा, सर्विस कर नहीं सकते |

    • C. 

      स्वर्ग में थोड़ेही कोई कहेगा स्वर्ग पधारा।

    • D. 

      कोई के पास पैसे हैं तो बाबा कहेंगे अच्छा, तुम जाकर सेन्टर खोलो। प्रदर्शनी बनाओ।

    • E. 

      भगवान ही पूज्य, भगवान ही पुजारी बनते हैं। आप ही भगवान हो, आप ही यह सब खेल करते हो। तुम भी भगवान, हम भी भगवान|

  • 6. 
    Q.बाप बच्चों को पुण्य आत्मा बनने की युक्ति बताते हैं - बच्चे, इस पुरानी दुनिया का अभी अन्त है। ..............
    • A. 

      मैं अभी डायरेक्ट आया हुआ हूँ, यह है पिछाड़ी का दान, एकदम सरेन्डर हो जाओ।

    • B. 

      भगवानुवाच - मामेकम् याद करो क्योंकि वही पतित-पावन है, मुझे याद करो तो तुम पुजारी से पूज्य बन जायेंगे।

    • C. 

      विशेष अटेन्शन देकर भिन्नता को मिटाओ और एकता को लाओ |

    • D. 

      श्रीमत पर नहीं चलेंगे तो पद थोड़ेही मिलेगा।

  • 7. 
    Q.आज के स्लोगन अनुसार दुःख की दुनिया को भूलने की युक्ति क्या है ?
    • A. 

      परमात्म प्यार में खो जाना

    • B. 

      एकता

    • C. 

      देही-अभिमानी होना

    • D. 

      साक्षीदृष्टा बनना

    • E. 

      नष्टोमोहा बनना

Back to Top Back to top