Hindi Murli Quiz 27-09-2015

10 | Total Attempts: 191

SettingsSettingsSettings
Please wait...
Hindi Murli Quiz 27-09-2015

.


Questions and Answers
  • 1. 
    Q. “अच्छे-अच्छे सार्विसएबुल, सहजयोगी बच्चे बाप-दादा के सदा साथ हैं। दूर होते हुए भी ------के आधार पर अति समीप हैं।“निम्नलिखित विकल्पों में से एक सबसे उपयुक्त शब्द से उपरोक्त रिक्त स्थान भरें I 
    • A. 

      स्नेह

    • B. 

      सहयोग

    • C. 

      साथी

    • D. 

      सेवा

  • 2. 
    Q. बाप-दादा देख रहे थे कि बच्चों ने तीन विशेषताओं अर्थात स्नेह, सहयोग और शक्ति स्वरूप में कितने मार्क्स प्राप्त किये हैं। बापदादा ने कौन सी तीन बातों के आधार से स्नेह-स्वरूप का रिजल्ट चेक किया, उनका सही-सही चयन करें --- 
    • A. 

      परिस्थितियों और व्यक्तियों के बावजूद बाप से अटूट स्नेह रहा ।

    • B. 

      .सदा सर्व सम्बन्धों से प्रीति निभाई ।

    • C. 

      कितनों को डायरेक्ट बाप का स्नेही बनाया कि बाप अच्छे-से-अच्छा है।

    • D. 

      कितनों को सिर्फ ज्ञान का स्नेही बनाया I

    • E. 

      कितनों को सिर्फ श्रेष्ठ आत्माओं का स्नेही बनाया I

  • 3. 
    Q. बापदादा ने कौन सी तीन मुख्य बातों के आधार से सहयोग-स्वरूप का रिजल्ट चेक किया, उनका सही  चयन करें— 
    • A. 

      निष्काम सहयोगी हैं ?

    • B. 

      मनसा-वाचा-कर्मणा, सम्बन्ध और सम्पर्क- इन सभी रूप से सहयोगी सदा रहे हैं?

    • C. 

      ऐसे योग्य सच्चे सहयोगी कितने बनाये हैं ?

    • D. 

      सहयोग में अलबेले तो नही हैं ?

  • 4. 
    Q. बापदादा ने कौन सी तीन मुख्य बातों के आधार से शक्ति-स्वरूप का रिजल्ट चेक किया, उनका सही चयन करें--  
    • A. 

      मास्टर सर्वशक्तिवान बने हैं या शक्तिवान?

    • B. 

      समय पर शक्तियों के शस्त्र का लाभ ले सकते हैं कि शस्त्र लॉकर में पड़े हुए हैं?

    • C. 

      स्व की शक्तियों की प्राप्ति द्वारा औरों को मास्टर शक्तिवान कहाँ तक बनाया है?

    • D. 

      स्व की शक्तियों की प्राप्ति द्वारा औरों को मास्टर सर्वशक्तिवान कहाँ तक बनाया है ?

  • 5. 
    Q.मुरली में यह रिजल्ट है बाप के स्वरूप की। लेकिन फाइनल रिजल्ट में बाप के साथ-साथ धर्मराज भी होंगे। उस फाइनल रिजल्ट के लिए बापदादा ने बच्चों के लिए, लास्ट चान्स के रूप में जो पुरुषार्थ बताया हैं, उनका चयन करें -- 
    • A. 

      दिल के अविनाशी वैराग्य द्वारा अपनी बीती हुई बातों को, संस्कार रूपी बीती को जला दें।

    • B. 

      अमृतबेले से रात तक ईश्वरीय नियमों और मर्यादाओं को सदा पालन करने का व्रत लें।

    • C. 

      निरन्तर महादानी बन, पुण्य आत्मा बन प्रजा को दान करें। ब्राह्मणों को सदा सहयोग देने का पुण्य करें।

  • 6. 
    Q. “ब्रह्मा बाप बोले कि साकार रूप द्वारा पालना हुई, अव्यक्त रूप द्वारा पालना हो रही है। अब जैसे साकार पालना वालों को समय-प्रति-समय बहुत चान्स मिले, अब अव्यक्त पालना वालों को भी यह लास्ट चान्स का विशेष हक मिलना चाहिए I इसलिए शुरू वालों के पेपर्स और अव्यक्त पालना वालों के पेपर चेक करने में पीछे वालों को 25 परसेन्ट एकस्ट्रा मार्क्स हैं इसलिए लास्ट चान्स जो चाहे सो ले सकते हैं। अभी सीट्स की सीटी नहीं बजी है इसलिए चान्स लो और सीट लो।''
    • A. 

      True

    • B. 

      False

  • 7. 
    Q. ”सम्बन्ध का त्याग, वैभवों का त्याग कोई बड़ी बात नहीं है लेकिन हर कार्य में, संकल्प में भी औरों को आगे रखने की भावना रखना अर्थात् अपने पन को मिटा देना, ‘पहले आप’ --यह है श्रेष्ठ त्याग। जैसे ब्रह्मा बाप ने सदा बच्चों को आगे रखा। त्याग में भी सदा आगे रहे I इसी त्याग के कारण सबसे आगे अर्थात् नम्बरवन में जाने का फल मिला। तो फालो फादर।”
    • A. 

      True

    • B. 

      False

  • 8. 
    Q.कृपया निम्नलिखित रिक्त स्थान भरें -----“फट से किसी का नुक्स निकाल देना-यह भी -------- देना है।” 
Back to Top Back to top