Hindi Murli Quiz 19-10-2017

8 Questions | Total Attempts: 139

SettingsSettingsSettings
Hindi Murli Quiz 19-10-2017 - Quiz

.


Questions and Answers
  • 1. 
    Q. ''बाप के----------बन सबको नई दुनिया का पुरूषार्थ कराओ,जैसे खुद नॉलेजफुल बने हो, ऐसे औरों को भी बनाते रहोI''निम्नलिखित विकल्पों में से एक सबसे सटीक शब्द से उपरोक्त रिक्त स्थान भरें I 
    • A. 

      मददगार

    • B. 

      आशिक

    • C. 

      सपूत

    • D. 

      साथी

  • 2. 
    Q. “तुम्हें अभी बीज और झाड़ की जो नॉलेज मिली है, उस नॉलेज की स्मृति में रहना है। इस स्मृति से तुम चक्रवर्ती राजा बन जाते हो - यही है स्मृति की कमाल। बाप बच्चों को स्मृति दिलाते हैं - बच्चे स्मृति आई तुमने आधाकल्प बहुत भक्ति की है। अब मैं तुम्हें भक्ति का फल देने आया हूँ। तुम फिर से वैकुण्ठ का मालिक बनते हो। जैसे बाप मीठा है - ऐसे बाप की नॉलेज भी मीठी है, जिसका सिमरण कर सिमर-सिमर सुख पाना है।” 
    • A. 

      गलत

    • B. 

      सही

  • 3. 
    Q. “-----------ही ब्राह्मण-जीवन का मुख्य फाउन्डेशन है- धरत परिये धर्म न छोड़िये।”निम्नलिखित विकल्पों में से एक सबसे सटीक शब्द से उपरोक्त रिक्त स्थान भरकर स्लोगन पूरा करें I 
    • A. 

      पवित्रता

    • B. 

      मर्यादा

    • C. 

      योग

    • D. 

      अहिंसा

  • 4. 
    Q. “सन्यासियों को सतयुग के सुख का मालूम नहीं है। वहाँ का सुख उन्हों को मिलना ही नहीं है। सतयुग के लिए भी उन्होंने सुना है ना कि कंस थे। तो समझते हैं वहाँ भी सुख नहीं था। तो औरों को भी ऐसे सुनाते कि काग विष्टा समान सुख है। तो ऐसे सुनाकर औरों को सन्यास कराते हैं। तुम बच्चे तो स्वर्ग के सुख पाते हो। यह तो अन्तिम जन्म है। मरेंगे भी सभी। मैं आया ही हूँ लेने लिए तो मच्छरों सदृश्य सबको ले जाऊंगा।”  
    • A. 

      सही

    • B. 

      गलत

  • 5. 
    Q. धारणा के लिए मुख्य पॉइंट्स चयन करें----- 
    • A. 

      बाप समान बहुत मीठा बनना है। सबको मीठी दृष्टि से देखना है।

    • B. 

      किसी का भी अवगुण नहीं देखना है।

    • C. 

      गॉडली स्टूडेन्ट-लाइफ की खुशी में रहना है।

    • D. 

      जब तक जीना है पढ़ाई रोज़ पढ़नी है।

  • 6. 
    Q.“ चार प्रकार के दीपक गाये हुए हैं:1- अंधियारे को मिटाकर रोशनी करने वाला मिट्टी का स्थूल दीपक 2- आत्मा रूपी दीपक, 3- कुल का दीपक और 4-आशाओं का दीपक। मिट्टी के दीपक तो कई जन्म जगाये हैं। अब आत्मा रूपी दीपक सदा जगा रहे। ऐसा कोई भी कर्म न हो जो कुल का दीपक बुझ जाये, ऐसी कोई चलन न हो जो बापदादा की आशाओं का दीपक बुझ जाये। तो अब ऐसे कुल दीपक बन बापदादा की आशाओं का दीप जगाते हुए सच्ची दीपावली मनाओ।” 
    • A. 

      गलत

    • B. 

      सही