Hindi Murli Quiz 11-12-2014

10 | Total Attempts: 253

SettingsSettingsSettings
Please wait...
Hindi Murli Quiz 11-12-2014

ये क्विज आज की मुरली पर आधारित है| मुरली सुनने के लिए यहाँ क्लिक करें| पुरानी क्विज  के लिए यहाँ क्लिक करें |


Questions and Answers
  • 1. 
    " शिव है सभी आत्माओं का बाप । यह फिर है सभी मनुष्य आत्माओं का बेहद का बाप । नाम ही है प्रजापिता ब्रह्मा । तुम किससे पूछ सकते हो कि ब्रह्मा के बाप का नाम क्या है, तो मूँझ पड़ेगे । ब्रह्मा, विष्णु, शंकर इन तीनो का बाप कोई होगा ना । ब्रह्मा, विष्णु, शकर सूल्यवतन मे देवताये है । उनके ऊपर है शिव ।"  
    • A. 

      True / ये वाक्य सही है

    • B. 

      False / ये वाक्य गलत है

  • 2. 
    "मीठे बच्चे, तुम अभी पढाई पढ़ रहे हो, यह पढाई है पतित से पावन बनने की, तुम्हें यह-----------------है I" [निम्नलिखित उत्तरों में आज की मुरली के शब्दों से रिक्त स्थान भरें ] 
    • A. 

      पढ़ना और पढ़ाना

    • B. 

      सुनना और सुनाना

    • C. 

      विचार सागर मन्थन करना I

    • D. 

      समझना और समझाना I

  • 3. 
    "पहली क्रियेशन यह लक्ष्मी-नारायण है, तो शिव के बाद इनकी ---------- जास्ती होगी । माताये जो ज्ञान देती हैं उनकी --------नहीं । वह तो पढ़ती है । तुम्हारी ---------- अभी नहीं होती है क्योकि तुम अभी पढ रहे हो । यह पढाई पतितो को पावन बनाने की है । तुम जानते हो हमको जो ऐसा बनाते हैं उनकी ---------- होगी फिर हमारी भी --------नम्बरवार होगी । फिर गिरते-गिरते 5 तत्वो की भी -------- करने लग पडते हैं । 5 तत्वों की -------- माना पतित शरीर की पूजा I"[इनमें से एक सही उत्तर चयन कर सभी रिक्त स्थान भरें]  
    • A. 

      पूजा

    • B. 

      तारीफ़

    • C. 

      इज्जत

    • D. 

      स्तुति

  • 4. 
    "अभी तुम जानते हो देवी-देवता धर्म वाले और धर्मो में कनवर्ट हो गये है, जो भारत में है वह अपने को हिन्दू कह देते है क्योकि पतित होने कारण देवी- देवता कहना शोभता नही । परन्तु मनुष्यों मे ज्ञान कहाँ । देवी-देवताओ से भी ऊचा टाइटल अपने पर रखवाते हैं । पावन देवी-देवताओ की पूजा करते माथा झुकाते है, परन्तु अपने को पतित समझते थोड़ेही हैं ।"
    • A. 

      True

    • B. 

      False

  • 5. 
    आज की धारणा अनुसार सभी सही पॉइंट्स चयन करें -- 
    • A. 

      बाप हमे विकारी से निर्विकारी बनाने के लिए गीता का ज्ञान सुना रहे हैं, इसी निश्चय से रमण करना है ।

    • B. 

      श्रीमत पर चलकर श्रेष्ठ गुणवान बनना है ।

    • C. 

      याद की यात्रा से बुद्धि को सोने का बर्तन बनाना है ।

    • D. 

      ज्ञान बुद्धि मे सदा बना रहे उसके लिए मुरली जरूर पढनी वा सुननी है ।

    • E. 

      याद का चार्ट बढ़ाकर कमसे कम 8 घन्टे करना है I

  • 6. 
    आज के स्लोगन के अनुसार "स्वय मे गुणो को धारण कर दूसरो को -----------------करने वाले ही गुणमूर्त हैं I" [एक सही उत्तर से रिक्त स्थान भरें ]
    • A. 

      गुणदान

    • B. 

      भरपूर

    • C. 

      सुसज्जित

    • D. 

      प्यार

Back to Top Back to top