Hindi Murli Quiz 06-02-2017

8 | Total Attempts: 159

SettingsSettingsSettings
Please wait...
Hindi Murli Quiz 06-02-2017

.


Questions and Answers
  • 1. 
     1- कर्म और योग के बैलेन्स द्वारा सर्व की ब्लैसिंग प्राप्त करने वाले सहज सफलतामूर्त बन जाते हैं l   2 - कर्म और योग के बैलेन्स से हर कर्म में बाप द्वारा ब्लैसिंग मिलती है और जिसके भी संबंध-सम्पर्क में आते हैं उनसे भी दुआयें मिलती हैं, सब उसे अच्छा मानते हैं, यह अच्छा मानना ही दुआयें हैं। तो जहाँ दुआयें हैं वहाँ सहयोग है और यह दुआयें व सहयोग ही सफलतामूर्त बना देता है।
    • A. 

      1 और 2 दोनों ठीक है परंतु 1, 2 का और 2 , 1 का कारण नहीं है l

    • B. 

      2 ग़लत है और 1 सही है l

    • C. 

      1 और 2 दोनों ठीक है और 2, 1 का कारण है l

    • D. 

      1 ग़लत है और 2 सही है l

  • 2. 
    "मीठे आज्ञाकारी बच्चे - तुम्हें सदा अतीन्द्रिय सुख में रहना है, कभी भी  __  नहीं है क्योंकि तुम्हें अभी ऊंचे ते ऊंचा बाप मिला है"
    • A. 

      रोना

    • B. 

      रूठना

    • C. 

      माँगना

  • 3. 
    अतीन्द्रिय सुख तुम गोप गोपियों का गाया हुआ है, देवताओं का नहीं - क्यों?
    • A. 

      तुम्हें स्वयं भगवान पढ़ाई हैं l

    • B. 

      देवता बन जायेंगे तब फिर उतरना शुरू करेंगे, डिग्री कम होती जायेगी l

    • C. 

      देवताओं को सृष्टि के आदि मध्य अंत का नहीं पता l

  • 4. 
    सदा खुश रहना और खुशियों का खजाना बांटते रहना, यही सच्ची/ सच्चा __  है।
    • A. 

      सेवा

    • B. 

      योग

    • C. 

      ज्ञान

    • D. 

      अवस्था

  • 5. 
    शिवबाबा तो __  है, सब बच्चों के लिए ही करते हैं। 
  • 6. 
    देखो, गांधी जी को सभी ने कितनी मदद दी, परन्तु उसने खुद नहीं खाया, सब देश के लिए किया। वह गांधी तो फिर भी मनुष्य था, यह तो __  का बाबा है। 
  • 7. 
     1-  इस बने बनाये ड्रामा को भी समझना है, यह हूबहू रिपीट हो रहा है।  2 - इस ड्रामा में कोई का दोष नहीं है। 
    • A. 

      1 और 2 दोनों ठीक है परंतु 1, 2 का और 2 , 1 का कारण नहीं है l

    • B. 

      1 और 2 दोनों ठीक है और 1, 2 का कारण है l

    • C. 

      1 और 2 दोनों ठीक है और 2, 1 का कारण है l

    • D. 

      2 ग़लत है और 1 सही है l

    • E. 

      1 ग़लत है और 2 सही है l

Back to Top Back to top