Hindi Murli Quiz 04-10-2015

10 | Total Attempts: 190

SettingsSettingsSettings
Please wait...
Hindi Murli Quiz 04-10-2015

.


Questions and Answers
  • 1. 
    Q. “बाप के पास हर सेवास्थान और सेवाधारियों का चार्ट व नक्शा है, जिस चार्ट द्वारा हरेक स्थान और सेवाधारियों के हर समय के ------- की विधि और पुरूषार्थ की गति, दोनों ही एक स्थान पर बैठे हुए देखते रहते हैं।“निम्नलिखित विकल्पों में से एक सबसे उपयुक्त शब्द से उपरोक्त रिक्त स्थान भरें --- 
    • A. 

      सेवा

    • B. 

      पुरुषार्थ

    • C. 

      कार्य

    • D. 

      चलन

  • 2. 
    Q. आज की मुरली के आधार पर केवल सही वाक्य ही चयन / टिक करें ---- 
    • A. 

      सिकीलधे बच्चों को खास गुह्य राज सुनाया जाता है।

    • B. 

      डबल विदेशियों में मैजॉरिटी स्नेह और शान्ति की प्राप्ति के आधार पर संशयबुद्धि कम बनते हैं।

    • C. 

      बाप-दादा भावना को नहीं देखते, भाषा को देखते हैं।

    • D. 

      सारे कल्प के अन्दर सूक्ष्मवतन इस समय इमर्ज होता है इसलिए सूक्ष्मवतन की रौनक भी अभी है।

    • E. 

      सफलता का सहज साधन है - न्यारा और प्यारा बनना I

  • 3. 
    Q. “विशेष सूक्ष्मवतन की कारोबार शुद्ध संकल्प के आधार पर चलती है। गाया हुआ है ब्रह्मा ने संकल्प किया और सृष्टि रची, तो संकल्प किया और इमर्ज हुआ। मर्ज और इमर्ज का खेल है। बाप-दादा संकल्प का स्वीच ऑन करते हैं तो सब इमर्ज हो जाता है। यहाँ तीनों लोक तक वोइसलेस की शक्ति द्वारा कनेक्शन कर सकते हैं। परन्तु बुद्धियोग बिल्कुल रिफाइन हो। सूक्ष्मवतन तक संकल्प पहुँचने के लिए महीन सर्व सम्बन्धों के सार वाली याद चाहिए। यह है सबसे पावरफुल तार, इसमें बीच में माया इन्टरफेयर नहीं कर सकती।“
    • A. 

      True

    • B. 

      False

  • 4. 
    Q. विश्व-कल्याणकारी स्टेज की सही-सही विशेषताएं चयन करें I विश्व-कल्याणकारी अर्थात----.  
    • A. 

      बेहद के सेवाधारी I

    • B. 

      सेवा के और सेवा के साधनों के लगाव से भी न्यारे ।

    • C. 

      देह की स्मृति से और सम्बन्ध के लगाव से भी न्यारे ।

    • D. 

      सदा हद की स्थित में रहने वाले।

    • E. 

      सदा बाप के प्यारे और सदा सफल ।

  • 5. 
    Q. “ सूक्ष्मवतन है ही बच्चों के लिए। और कोई भी आत्मायें सूक्ष्मवतन का अनुभव कर ही नहीं सकती हैं क्योंकि ब्रह्मा और ब्राह्मणों का ही सम्बन्ध है। भक्त लोग सिर्फ कोई विशेष दृश्य का साक्षात्कार कर सकते हैं लेकिन सूक्ष्मवतन हमारा घर है, ब्रह्मा बाप का स्थान सो हमारा स्थान है। सूक्ष्मवतन के स्वेहजों का अनुभव, मिलने का अनुभव, बहलाने का अनुभव ब्राह्मण ही कर सकते हैं।“
    • A. 

      True

    • B. 

      False

  • 6. 
    Q. “लाइट हाउस का कार्य है- भटकती हुई आत्मा को सहज ही यथार्थ मंजिल दिखाना। इसके लिए विशेष दो बातें ध्यान में रखना 1.सदा परखने की शक्ति धारण करके आत्मा की चाहना को परखना। 2.अनुभवी मूर्त बनके औरों को भी सहज अनुभव कराना । शक्तियों के अनुभवी का टाइटल है मास्टर सर्वशक्तिवान, गुणों के अनुभवी का टाइटल हैं- गुणमूर्त और सर्व सम्बन्धों के अनुभवी का टाइटल है सर्व स्नेही। ऐसे आपके मस्तक से, नयनों से दिखाई दे कि यह सर्व प्राप्ति स्वरूप हैं।“
    • A. 

      True

    • B. 

      False

Back to Top Back to top