Hindi Murli Quiz 03-03-2015

10 | Total Attempts: 197

SettingsSettingsSettings
Please wait...
Hindi Murli Quiz 03-03-2015

ये क्विज आज की मुरली पर आधारित है| मुरली सुनने के लिए यहाँ क्लिक करें| पुरानी क्विज  के लिए यहाँ क्लिक करें |


Questions and Answers
  • 1. 
    इनमें से सही वाक्यों का चयन करें |  (उत्तर एक या एक से ज्यादा भी हो सकते हैं)
    • A. 

      पैगम्बर बन सबको बाप और वर्से को याद करने का पैगाम देना है।

    • B. 

      इस पुरानी दुनिया में कोई चैन नहीं है, यह छी-छी दुनिया है इसे भूलते जाना है।

    • C. 

      घर की याद के साथ-साथ पावन बनने के लिए बाप को भी जरूर याद करना है।

  • 2. 
    झूठ की नाव हिलती नहीं है, इनको कितना हिलाने की करते हैं। जो यहाँ इस नांव में बैठे हुए हैं वह भी हिलाने की कोशिश करते हैं।__ गाये जाते हैं ना।   
    • A. 

      ट्रेटर

    • B. 

      देवता

    • C. 

      ब्राह्मण

  • 3. 
    अब बाप को और स्वर्ग को याद करो तो अन्त मती सो गति हो जायेगी। शादी आदि में भी भल मत जाओ |
    • A. 

      True / ये वाक्य सही है

    • B. 

      False / ये वाक्य गलत है

  • 4. 
    .....| दु:ख तो गले से जैसे बाँधा हुआ है। 
    • A. 

      अभी बाप समझाते हैं-तुम इन आखों से जो कुछ देखते हो वह विनाश होने का है।

    • B. 

      भल कोई सारा दिन राम-राम बैठ जपे, तो भी दु:ख हर नहीं सकते। यह है ही रावण राज्य।

    • C. 

      एक तरफ शिव जयन्ती भी मनाते हैं, दूसरे तरफ फिर कहते नाम-रूप से न्यारा है।

  • 5. 
    समझते हैं नदी पतित-पावनी है, उसमें स्नान कर हम पावन बन जायेंगे। भक्ति मार्ग में यह भी किसको पता नहीं पड़ता कि ....  
    • A. 

      हमको चाहिए क्या!

    • B. 

      हम किसको याद करते हैं !

    • C. 

      हम गिरते ही आते हैं !

  • 6. 
    अभी तुम बच्चे जानते हो हमको पढ़ाने वाला कोई देहधारी नहीं है, शास्त्र आदि सब कुछ पढ़ा हुआ है। इसलिए तुम्हें उनका सार सुनाते हैं | 
    • A. 

      True / ये वाक्य सही है

    • B. 

      False / ये वाक्य गलत है

  • 7. 
    बच्चों से जब कोई काम ठीक नहीं होता है तो बाबा कहते ....
    • A. 

      तुम तो जैसे भक्त हो।

    • B. 

      तुम तो जैसे पत्थरबुद्धि हो |

    • C. 

      तुम तो जैसे मूर्ख हो |

  • 8. 
    आज के वरदान अनुसार किस अभ्यास को निरन्तर और नेचुरल बनाओ ?
    • A. 

      मन्सा और कर्मणा दोनों साथ-साथ सेवा

    • B. 

      बाप की याद

    • C. 

      सर्व अनुभवों की अथॉरिटी

  • 9. 
    जिनका कोई आकार वा साकार चित्र है ....
    • A. 

      उनको भगवान नहीं कह सकते।

    • B. 

      उनको सद्गति दाता नहीं कह सकते।

    • C. 

      उनको गुरु नहीं कह सकते।

Back to Top Back to top