Hindi Murli Quiz 23-10-2014

10 | Total Attempts: 181

SettingsSettingsSettings
Please wait...
Cell Quizzes & Trivia

ये क्विज आज की मुरली पर आधारित है| मुरली सुनने के लिए यहाँ क्लिक करें| पुरानी क्विज  के लिए यहाँ क्लिक करें |


Questions and Answers
  • 1. 
     सन्यासी जो सतोप्रधान थे वह ब्रह्म की मस्ती में मस्त रहते थे । उनमें बड़ी कशिश होती थी । जंगल में भोजन मिलता था । दिन-प्रतिदिन तमोप्रधान होने से ताकत कम होती जाती है ।
    • A. 

      True / ये वाक्य सही है

    • B. 

      True / ये वाक्य सही है

  • 2. 
      सदा ---------- की वृत्ति, दृष्टि और स्थिति हो तब विश्व कल्याण का कार्य सम्पन्न होगा ।[एक सही उत्तर चुनकर रिक्त स्थान भरें ]
    • A. 

      बेहद

    • B. 

      हद

    • C. 

      कल्याण

  • 3. 
    -------------- की ही बात है । यही तमोप्रधान बना है फिर इनको ही सतोप्रधान बनना है । बाप भी -------------में ही आकर सबकी सद्गति करते हैं । यह बड़ा वन्डरफुल खेल है । [एक सही उत्तर का चयन कर दोनों रिक्त स्थान भरें ]
    • A. 

      भारत

    • B. 

      हर कल्प

    • C. 

      आत्मा

  • 4. 
    "यज्ञ में तो जिन्होंने कल्प पहले मदद की है वह करते रहते हैं, करते रहेंगे । तुम क्यों माथा मारते हो---यह करें, वह करें । ड्रामा में नूँध है-जिन्होंने बीज बोया है, वह अभी भी बोयेंगे । यज्ञ का तुम चिंतन नहीं करो । अपना कल्याण करो । अपने को मदद करो ।" 
    • A. 

      True

    • B. 

      False

  • 5. 
    आज की मुरली में धारणा के अन्तर्गत दिये इशारे चयन करें ------------------- 
    • A. 

      सदा याद रहे - जो कर्म हम करेंगे हमको देख और करेंगे I

    • B. 

      बहुत-बहुत निरहंकारी रहना है ।

    • C. 

      धन्धे- धोरी में ऐसा बिजी नहीं होना है जो याद की यात्रा वा पढ़ाई के लिए टाइम ही न मिले ।

    • D. 

      याद का चार्ट कमसे कम 8 घन्टे तक ले जाना है I

  • 6. 
    "आजकल दीपमाला में आह्वान की विधि अथवा साधना समाप्त हो गई है । स्नेह समाप्त हो सिर्फ स्वार्थ रह गया है इसलिए यथार्थ दाता रूपधारी लक्ष्मी किसी के पास आती नहीं । लेकिन आप सभी यथार्थ विधि से अपने दैवी पद का आह्वान करते हो इसलिए स्वयं पूज्य देवी-देवता बन जाते हो ।" 
    • A. 

      True

    • B. 

      False

  • 7. 
    "----------- ज्ञानियों के श्वांस भी सुख वाले हो जाते हैं । ---------- की ही याद में रहते हैं, परन्तु -------- लोक में कोई जाता नहीं है । आपेही शरीर छोड़ दें - यह हो सकता है । कई फास्ट  (उपवास) रखकर शरीर छोड देते हैं, वह दु :खी होकर मरते हैं । बाप तो कहते हैं खाओ पियो बाप को याद करो तो अन्त मती सो गति हो जायेगी ।"[एक सही उत्तर से सभी रिक्त स्थानों को भरें ]
    • A. 

      ब्रह्म

    • B. 

      आत्मा

    • C. 

      परमात्म